देश से एक मात्र छात्रा का रसायन विज्ञान में चयन 

रसायन विज्ञान में प्रतिष्ठित इंडो-यूएस फैलोशिप अवार्ड

दून विश्वविद्यालय की शोध छात्रा आयुशी अरोड़ा हुई सम्मानित

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : दून विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ़ फिजिकल सांइस की शोध छात्रा आयूषी अरोड़ा को प्रतिष्ठित इंडो यूएस INDO- US फैलोशिप से नवाजा गया। यह फैलोशिप विज्ञान के क्षेत्र में उत्कृष्ट शोध कार्य करने के लिये विज्ञान एवं प्रोद्यौगिकी के क्षेत्र से एक-एक छात्रा को प्रदान की जाती है। 

इस वर्ष इस फैलोशिप के लिये देश के प्रतिष्ठित शोध संस्थानों एवंविश्वविद्यालयों से शोधार्थियों ने आवेदन किया परन्तु दून विश्वविद्यालय के रसायन विज्ञान की शोध छात्रा इस सम्माान को प्राप्त करने में सफल हुई।

यह फैलोशिप छात्रा को अमेरिका की प्रसिद्व टैक्सास यूनिवर्सिटी में अपने शोध कार्य को आगे बढ़ाने के लिये दी गयी है। रसायन विज्ञान में आयूषी भारत देश से अकेली ऐसी शोध छात्रा हैं जिनको एक खुली प्रतियोगिता में राष्ट्रीय स्तर पर इस प्रतिष्ठित फैलोशिप के लिये चयनित किया गया है।

इस फैलेशिप के तहत छात्रा को 2500 अमेरिकन डालर प्रतिमाह, हवाई यात्रा भत्ता, बीमा एवं आफिशियल खर्चे के तहत अन्य राशि प्रदान की जायेगी। अब तक यह फैलोशिप सामान्य रूप आई.आई.टी. या आई.आई.एस.सी. बैंगलोर जैसे प्रतिष्ठित संस्थानो के  छात्र-छात्राएं ही प्राप्त करते रहे हैं।

दून विश्वविद्यालय की छात्रा का यह सम्मान पाना इस बात को इंगित करता है कि पिछले कुछ समय से दून विश्वविद्यालय में शोध की गुणवत्ता में काफी इजाफा हुआ है। आयूषी को यह फैलोशिप प्राप्त होने परं विश्वविद्यालय के छात्रों एवं शिक्षकों ने खुशी व्यक्त की।

रसायन विज्ञान के विभागाध्यक्ष डाॅ.अरूण कुमार ने कहा कि शोध की गुणवत्ता उत्कृष्ट स्तर की हो इसके लिये विभाग सदैव प्रयासरत रहता है। डाॅ. कुमार ने कहा कि आयूषी को फैलोशिप प्राप्त होने पर अन्य शोधार्थियोें को मनोबल बढ़ेगा और वे अच्छा कार्य करने के लिये प्रेरित होंगे।

Advertisements

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.