विधानसभा अध्यक्ष ने लिया पीठासीन अधिकारियों के अखिल भारतीय सम्मेलन की तैयारियों का जायजा

उत्तराखंड में पहली बार आयोजित हो रहा है देशभर के पीठासीन अधिकारियों के अखिल भारतीय सम्मेलन

0
283

उत्तराखंड में पहली बार 17 से 21 दिसंबर तक आयोजित होगा देशभर के पीठासीन अधिकारियों का सम्मलेन 

स्थानीय उत्पादों के 15 से 20 स्टॉल आयोजन स्थल पर लगाए जाएंगे जो विक्रय केंद्र भी होंगे

लोकसभा टीवी, राज्यसभा टीवी एवं दूरदर्शन, आकाशवाणी द्वारा सम्मेलन के उद्घाटन का प्रसारण 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून। उत्तराखंड में पहली बार 17 से 21 दिसंबर तक आयोजित होने वाले पीठासीन अधिकारियों के अखिल भारतीय सम्मेलन की तैयारियों का जायजा लेने के लिए उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने शनिवार को उच्च अधिकारियों के संग कार्यक्रम स्थल होटल रीजेंटा का मौके पर निरीक्षण किया। इस दौरान शासन, प्रशासन, विभाग एवं विधानसभा के उच्च अधिकारीगण मौजूद थे। 

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने मौके पर जायजा लेते हुए आयोजन स्थल पर ओपन सेरेमनी हॉल, कॉन्फ्रेंस हॉल, पार्किंग व्यवस्था सहित प्रदर्शनी स्थल एवं अतिथियों के भोज स्थल का निरीक्षण किया।श्री अग्रवाल ने इस दौरान एसपी सिटी से उत्तराखंड में आने वाले अतिथियों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए। अग्रवाल ने आयोजन स्थल पर औद्योगिक विभाग द्वारा लगाए जाने वाले स्टालों, हस्तशिल्प प्रदर्शनी के बारे में भी जानकारी ली। इधर अधिकारीयों द्वारा बताया गया कि 15 से 20 स्टॉल आयोजन स्थल पर लगाए जाएंगे जो कि एक विक्रय केंद्र भी होंगे जहां से अतिथिगण उत्तराखंड में हाथ से बनी हुई वस्तुओं को खरीद पाएंगे। श्री अग्रवाल ने बताया कि लोकसभा टीवी, राज्यसभा टीवी एवं दूरदर्शन, आकाशवाणी द्वारा सम्मेलन के उद्घाटन अवसर का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

इस दौरान अग्रवाल ने आयोजन स्थल की सुरक्षा व्यवस्था, अग्निशमन इंतजाम, अतिथियों के प्रवेश एवं निर्गम हेतु उचित व्यवस्था करने की भी बात कही। श्री अग्रवाल ने अतिथियों के ठहरने की व्यवस्था हेतु कमरों का भी निरीक्षण किया। श्री अग्रवाल ने आयोजन स्थल पर मीडिया सेंटर बनाने, प्रेस गैलरी एवं ओपनिंग सेरेमनी के दिन उत्तराखंड के मंत्रियों एवं विधायकों की उचित सीटिंग व्यवस्था करने के भी अधिकारियों को निर्देश दिए।

अग्रवाल ने ठंड का मौसम होने के कारण खुले स्थान पर अलावा व हीटर की व्यवस्था, लाइट की उचित व्यवस्था एवं भोज के दौरान उत्तराखंड के परंपरागत व्यंजन को शामिल करने के निर्देश होटल के अधिकारियों को दिए। साथ ही सम्मेलन में भोज के दौरान व्यंजनों के मेन्यू को भी उन्हें उपलब्ध कराने की बात कही।

श्री अग्रवाल ने इस दौरान कहा कि कार्यक्रम में प्लास्टिक को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रखा जाए।साथ ही पूरे सम्मेलन के दौरान आकस्मिक चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध रहे। उन्होंने सम्मेलन के आयोजन में किसी भी प्रकार की कमी ना होने पाए इसके लिए अधिकारीयो को निर्देशित किया। अग्रवाल ने तिथि वार चलने वाले कार्यक्रम की प्रत्येक गतिविधियों पर अधिकारियों से विस्तार में भी चर्चा की। श्री अग्रवाल ने अधिकारियों से कहा कि सम्मेलन की विशेषता और भव्यता का पूरा ख्याल रखा जाए।

इस अवसर पर विधानसभा के सचिव जगदीश चंद, देहरादून के जिलाधिकारी रविशंकर, एसपी सिटी श्वेता चौबे, सिटी मजिस्ट्रेट अवधेश कुमार, विकासनगर के क्षेत्राधिकारी, देहरादून सिटी के क्षेत्राधिकारी सहित विधानसभा के उप सचिव मुकेश सिंघल, प्रोटोकॉल अधिकारी मयंक सिंघल, अनु सचिव नरेंद्र रावत, वरिष्ठ निजी सचिव अजय अग्रवाल सहित कई अन्य अधिकारीगण मौजूद थे।