अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर प्रहार : भगत

0
297

मीडिया का गला घोटने की कोशिश में कांग्रेस और उसके सहयोगी 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून । भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री बंशीधर भगत ने महाराष्ट्र पुलिस द्वारा रिपब्लिक चैनल के मुख्य संपादक श्री अर्णव गोस्वामी की गिरफ्तारी को लोकतंत्र पर प्रहार बताया और कहा कि कांग्रेस और उसके सहयोगी दल अपने तानाशाही रवैये के कारण मीडिया का गला घोटने पर उतारू हैं ।भाजपा इसकी निंदा करती है और इसके विरोध में भाजपा द्वारा पूरे प्रदेश में प्रदर्शन आदि किए जा रहे हैं ।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री बंशीधर भगत ने रिपब्लिक चैनल के मुख्य संपादक श्री अर्णव गोस्वामी के ख़िलाफ़ दर्ज पुराने बंद किए जा चुके मामले पर गिरफ्तार करने की निंदा करते हुए कहा कि यह लोकतंत्र पर प्रहार है ।उन्होंने कहा कि तानाशाही प्रवृत्ति की कांग्रेस और उसके सहयोगी सच को न तो सुन पाते हैं न पचा पाते हैं ।इसके विपरीत वे सच को दबाने के लिए हर हथकंडा अपनाते हैं ।श्री गोस्वामी की गिरफ्तारी इसलिए नहीं की गई कि 2 वर्ष पूर्व उनके विरुद्ध की गई शिकायत जो आधारहीन पाए जाने बंद कर दी गई थी पर अब उससे जुड़े नए तथ्य सामने आए हैं बल्कि इसका मुख्य कारण श्री गोस्वामी द्वारा महाराष्ट्र सरकार जिसमें कांग्रेस भी शामिल है के बारे में तथ्यों को बेनकाब किया जाना है ।लेकिन कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों के नेता इन बातों को स्वीकार नहीं करते और वह मीडिया की आवाज को दबाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं ।
श्री भगत ने कहा कि श्री अर्णव गोस्वामी को जिस प्रकार उनके आवास से गिरफ्तार किया गया और उनके साथ धक्का-मुक्की करने के अलावा घर के बुजुर्गों व अन्य सदस्यों को अपमानित व प्रताड़ित किया गया वह तानाशाही का ही एक उदाहरण है । इसके अलावा अब श्री अर्णव और उनके परिवारजनों के खिलाफ एक महिला पुलिस कर्मी के साथ हाथापाई करने का जो मामला दर्ज किया गया है ,वह एक बड़ी साजिश का नतीजा है।यह घटनाक्रम आपातकाल की याद दिलाता है जब श्रीमती इंदिरा गांधी ने अपने कुर्सी को बचाने के लिए प्रेस की आजादी को छीन लिया था । उन्होंने कहा कि न तो श्रीमती गांधी का दौर अधिक चला और न महाराष्ट्र में कांग्रेस व उसके दलों का दौर अधिक चलेगा ।किंतु इससे एक बार फिर कांग्रेस व उसके सहयोगी बेनकाब हुए हैं ।श्री भगत ने कहा कि हम इस सारे घटनाक्रम की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं और इसके विरोध में करने पूरे प्रदेश में सभी जिलों में प्रदर्शन हो रहे हैं ।भारतीय जनता पार्टी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए हमेशा वचनबद्ध रही है और रहेगी।