सरकार से नाराज़ विधायक हरीश धामी ने पिथौरागढ़ डीएम ऑफिस के सामने रखा दो घंटे का उपवास

0
336

नेपाल और चीन से लगे सीमांत जनपद लोगों को लेकर सरकार नहीं है गंभीर : हरीश धामी 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
पिथौरागढ़ : विधानसभा क्षेत्र धारचूला में आई आपदा के बाद सरकार की इलाके के प्रति बेरुखी से नाराज क्षेत्रीय विधायक हरीश धामी ने गुरुवार को विरोध स्वरूप पिथौरागढ़ जिला अधिकारी कार्यालय के सामने दो घंटे का उपवास रखा। धरने के दौरान हरीश धममी ने राज्य सरकार पर क्षेत्र की उपेक्षा को लेकर सरकार को जमकर घेरा।
श्री धामी ने कहा कि आज क्षेत्र के अलग-अलग गांव में भीषण आपदा आई है। कई लोग बेघर हुए हैं तो कई लोगों के रोजी रोटी के संसाधन समाप्त हुए हैं। सरकार लोगों के लिए टेंट और अन्य संशाधन जुटा पाने में असफल साबित हुई है।कई गांव की आंतरिक मार्ग पूर्णत: ध्वस्त हुए हैं।
उन्होंने कहा मुनस्यारी से लेकर धारचूला तक कई स्थानों पर सड़क अभी तक खुली नहीं है। जिसका संज्ञान राज्य सरकार ने अभी तक नहीं लिया है। न हीं मुख्यमंत्री द्वारा क्षेत्र का दौरा अभी तक किया गया है। इससे साबित होता है कि नेपाल और चीन से लगे सीमांत जनपद लोगों को लेकर मुख्यमंत्री गंभीर नहीं है।
उपवास के दौरान कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता मथुरा दत्त जोशी, एडवोकेट रमेश कापडी ने भी त्रिवेंद्र रावत सरकार पर क्षेत्र की उपेक्षा का आरोप लगाया। पूर्व अध्यक्ष मुकेश पंत ,प्रदीप पाल ने कहा कि मुख्यमंत्री को क्षेत्र के आपदा पीड़ितों की सुध लेनी चाहिये। 
इस दौरान त्रिलोक महर,रिशेन्द्र महर, राजू धममी, मन्नू ठाकुराठी, दीपक लुंठी,कोमल साही, चंचल बोरा, विक्रम दानु, शकुंतला दताल,जगत महर,गोकर्ण जंगपांगी, जगदीश बिष्ट,जगदीश धामी, त्रिलोक बिष्ट,दीनू तिवारी,आशीष हावर्ड, बॉब कन्याल सहित कई वरिष्ठ कांग्रेसी उपस्थित थे