सरकार के साथ सामाजिक संगठन और संस्थाओं को भी निभानी चाहिए अपनी महत्वपूर्ण भूमिका : अजेय

0
334

कोरोना संकट के दौरान अनेक सामाजिक संस्थाओं ने अपनी जिम्मेदारी का किया कुशलता से निर्वहन

यूथ आइकन क्रियेटिव फाउंडेशन के शशि भूषण मैठाणी पारस के कार्यों की भाजपा ने की तारीफ़ 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून : भाजपा के प्रदेश महामंत्री (संगठन) श्री अजेय ने कहा कि कोरोना काल में सरकार के साथ-साथ सामाजिक संगठनों व संस्थाओं को भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका सुनिश्चित करनी चाहिए।
भाजपा प्रदेश महामंत्री (संगठन) श्री अजेय ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ताओं व संगठनों से संवाद कायम किया। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के दौरान अनेक सामाजिक संस्थाओं ने अपनी जिम्मेदारी का कुशलता से निर्वहन किया और प्रशंसनीय कार्य किया। मगर अब बड़ी संख्या में प्रवासी अपने घरों को लौट रहे हैं। ऐसे में सामाजिक कार्यकर्ताओं व संस्थाओं की जिम्मेदारी और बढ़ गई है।
उन्होंने कहा कि प्रवासियों की घर वापसी पलायन की पीड़ा से जूझ रहे पहाड़ के लिए एक अवसर भी लेकर आया है। प्रदेश व केंद्र सरकार के स्तर पर प्रवासियों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं। सामाजिक संस्थाएं इस दिशा में अपनी सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित कर सरकार के प्रयासों को गति दे सकती हैं।
कार्यक्रम की संयोजक भाजपा की प्रदेश मंत्री श्रीमती मधु भट्ट ने कहा कि उनकी पार्टी राजनीति को समाज सेवा का माध्यम मानती है। कोरोना संकट में पार्टी कार्यकर्ताओं ने अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन बखूबी किया।
वीडियो कांफ्रेंसिंग में समाधान संस्था की डा. रेणु सिंह, समर्पण की डा. गीता खन्ना, भुवनेश्वरी महिला आश्रम के श्री ज्ञान सिंह रावत, हर्षल फाउंडेशन की श्रीमती रमा गोयल, महामंडलेश्वर अवधूत बाबा अरुण, जैविक उत्पाद कृषि समूह के श्री दीपक उपाध्याय, यूथ आइकन क्रियेटिव फाउंडेशन के श्री शशि भूषण मैठाणी पारस, श्रीमती भारती व्यास, श्रीमती मधु सचिन जैन, श्री तेज राम सेमवाल, श्रीमती मीरा सकलानी, श्री सुशील बहुगुणा, श्री देवेश, श्री संदीप जैन, श्री विशंबर नाथ बजाज आदि जुड़े थे।