• प्रेरणा देने की क्षमता केवल राहुल गांधी में : हरीश रावत 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादूनः राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी राहुल गाँधी के इस्तीफे पर अडिग रहने के बाद सबसे पहले उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत का नाम इस्तीफे देने वालों में शुमार हो गया है उन्होंने अपने इस्तीफे की जानकारी गैरसैंण से अपनी फेसबुक पोस्ट से दी है।

फेसबुक पोस्ट डाली गयी पोस्ट में हरीश रावत ने भविष्य में कांग्रेस की रणनीति के संकेत भी दिए हैं। ऐसे में यह माना जा रहा है कि हरीश रावत अब प्रदेश में विधानसभा चुनाव की दमदार तैयारी में जुटने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि असम में पार्टी द्वारा अपेक्षित स्तर का प्रदर्शन न कर पाने के लिए प्रभारी के रूप में मैं स्वयं उत्तरदायी हूं। मैंने अपनी कमी को स्वीकारते हुए अपने महामंत्री के पद से पूर्व में ही त्यागपत्र दे दिया है। उन्होंने कहा पार्टी के लिए समर्पित भाव से काम करने के लिए मेरी स्थिति के लोगों के लिए पद कोई आवश्यक नहीं है, लेकिन प्रेरणा देने वाला नेता आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि प्रेरणा देने की क्षमता केवल राहुल गांधी में है। उनके हाथ में बागडोर रहे तो यह संभव है कि हम 2022 में राज्यों में हो रहे चुनाव में वर्तमान स्थिति को बदल सकते हैं। साथ ही उन्होंने कहा 2024 में बीजेपी और नरेंद्र मोदी को परास्त कर सकते हैं। इसलिए लोकतांत्रिक शक्तियां और सभी कांग्रेसजन राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष पद पर देखना चाहते हैं।

Advertisements