मंदिर के कपाट खुलने के बाद शुरू किया आचार्य सुनील खंडूड़ी ने श्रीमद्भागवत कथा का प्रवचन

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । 14 जनवरी मकर संक्रांति के पावन पर्व पर ब्रह्ममुहूर्त में सुबह चार बजे आदिबदरी मंदिर के कपाट खुल गए। कपाट उद्घाटन के लिए मंदिर को दो क्विंटल गेंदे के फूलों से सजाया गया है। मंदिर के कपाट खुलने के बाद आचार्य सुनील खंडूड़ी ने श्रीमद्भागवत कथा का प्रवचन किया।

मंदिर के पुजारी चक्रधर थपलियाल ने बताया कि कपाट ब्रह्म मुहूर्त में सुबह चार बजे खुले। कपाट खुलने के बाद आदिबदरी नाथ जी का महाभिषेक समारोह सुबह 10 बजे विधायक सुरेंद्र सिंह नेगी की ओर से किया गया। मंदिर समिति के अध्यक्ष विजयेश नवानी ने कहा कि समारोह के पहले दिन महिलाओं की ओर से सीता स्वयंवर का मंचन होगा और व्यापार संघ व क्षेत्रीय संस्थाओं के सहयोग से रामलीला मैदान में जिला स्तरीय वॉलीबाल प्रतियोगिता शुरू होगी।

16 जनवरी को भुवनेश्वरी महिला आश्रम के सौजन्य से लोक नृत्य व लोक गीतों की प्रस्तुति होगी और 17 जनवरी को स्कूलों के सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। आचार्य सुनील खंडूड़ी श्रीमद्भागवत कथा प्रवचन करेंगे। नरेंद्र चाकर, नवीन बहुगुणा, नंदा नेगी, बलवंत नेगी, नरेश बरमोला को कार्यक्रम की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

Advertisements