माफियाओं के विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट के तहत होगी कार्रवाई : डीजीपी उत्तराखंड

0
366

जमीन, संपत्ति कब्जाने एवं धोखाधड़ी करने वाले पर होगी कड़ी कार्रवाही 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही करने एवं अपराध नियंत्रण के लिए पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार रतूड़ी के निर्देश पर प्रदेश भर में प्रचलित रजिस्टर्ड गैंगों, वांछित अपराधियों, ईनामी अपराधियों, संगठित अपराधियों के विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही करने एवं महत्वपूर्ण स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों की ग्रिडिंग करने को लेकर 01 नवम्बर 2019 से 31 जनवरी 2020 तक 03 माह का एक विशेष अभियान चलाया गया।

महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया कि अभियान के प्रारम्भ में प्रदेश में संगठित अपराध करने वाले कुल 43 गैंग निगरानी के अधीन थे। अभियान के दौरान समीक्षा करने पर 21 गैंग शान्त एवं निष्क्रिय पाये जाने पर खारिज किये गये। इसके साथ ही संगठित अपराध करने वाले अपराधियों के 9 नये गैंग रजिस्टर्ड कर निगरानी के अधीन किये गये। वर्तमान में कुल 31 गैंग के अपराधी निगरानी के अधीन हैं। अभियान के अन्तर्गत इस आलोच्य अवधि के दौरान फरार इनामी अपराधियों के विरूद्ध भी ठोस कार्यवाही करते हुए कुल 95 इनामी अपराधियों को गिरफ्तार किया गया।

जघन्य अपराधों से सम्बन्धित 79 अपराधियों पर रेंज एवं मुख्यालय स्तर से इनाम की राशि बढ़ाई गई। प्रमुखतः जनपद देहरादून में 10, हरिद्वार-36, नैनीताल-10 एवं ऊधमसिंहनगर में 34 इनामी अपराधियों की गिरफ्तारी की गई। एस0टीएफ0 द्वारा विभिन्न जनपदों के 09 इनामी अपराधियों की गिरफ्तारी की गई। विभिन्न अपराधों में वांछित चल रहे कुल 1035 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। 107 अपराधियों पर इनाम घोषित किया गया। 36 अपराधियों के विरूद्ध कुर्की की कार्यवाही की गई।

देहरादून, हरिद्वार एवं ऊधमसिंहनगर में वांछित अपराधियों का काफी अच्छी गिरफ्तारी हुई है। संगठित अपराध करने वाले 495 अपराधियों को अभियान में चिन्हित किया गया, जिसमें 168 सम्पत्ति सम्बन्धी, 47 शराब एवं 20 मादक पदार्थ (कुल 235) से सम्बन्धित अपराधियों पर गैंगस्टर एक्ट के अन्तर्गत कार्यवाही की गई तथा 61 अपराधियों पर गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही करने की कार्यवाही प्रचलित है।

अभियान में प्रयास किया गया है कि प्रत्येक थाना क्षेत्र को शत-प्रतिशत सीसीटीवी कैमरों से कवर कर लिया जाए, ताकि अपराध और अपराधियों पर नियंत्रण लगाया जा सके और अपराध को शॉट आउट करने में आसानी हो। अभियान के अन्तर्गत अभी तक जनसहयोग और सरकार के प्रयासों से कुल 3416 नये कैमरे लगवाये गये। अभियान के उपरान्त अब प्रदेश में लगभग 19 हजार सीसीटीवी कैमरे हो गये हैं। अशोक कुमार ने बताया कि इस विशेष अभियान को देखते हुए आगामी कुछ दिनों बाद जमीन, सम्पत्ति कब्जाने एवं धोखाधड़ी करने वाले माफियाओं के विरूद्ध भी अभियान चलाकर गैंगस्टर एक्ट के अन्तर्गत ठोस कार्यवाही की जायेगी।