उत्तराखंड में वर्षभर पर्यटन के लिए एक्शन प्लान पर जोर

0
518

पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर श्री बदरीनाथ धाम के मास्टर प्लान पर प्रस्तुतीकरण दिया गया

मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंस से चारधाम देवस्थानम बोर्ड के सलाहकार अश्विनी लोहानी और फैथ के महासचिव  सुभाष गोयल के साथ चर्चा की 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य में वर्षभर पर्यटन के लिए एक्शन प्लान बनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि विशेष तौर पर यात्रा मार्ग पर स्थित पर्यटन स्थलों में यात्रा अवधि के अलावा भी पर्यटन को बढ़ावा दिए जाने की आवश्यकता है। श्री बदरीनाथ धाम के प्रस्तावित मास्टर प्लान पर तीर्थ पुरोहितों और स्थानीय लोगों के सुझाव भी प्राप्त कर लिए जाएं।
शनिवार को मुख्यमंत्री ने प्रदेश में पर्यटन गतिविधियाँ को बढाने के संबंध में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से चारधाम देवस्थानम बोर्ड के सलाहकार अश्विनी लोहानी और फैडरेशन ऑफ एसोसिएशन्स इन इंडियन टूरिज्म एंड हॉस्पिटिलिटी (फैथ) के महासचिव सुभाष गोयल के साथ विचार विमर्श किया।
सलाहकार लोहानी ने उत्तराखंड पर्यटन को ब्रांड के रूप में विकसित किए जाने की आवश्यकता बताई। उन्होंने प्रदेश की समृद्ध वाइल्ड लाइफ में भी पर्यटन की काफी सम्भावना बताई। वहीं फैथ के महासचिव गोयल ने कहा कि उत्तराखंड में हाईएंड टूरिज्म पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। इसमें टूरिज्म इंडस्ट्री और पर्यटन से जुड़ी संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाए।
पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने उत्तराखंड में पर्यटन के विविध आयामों व वर्तमान में चल रही पर्यटन परियोजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने चारधाम देवस्थानम बोर्ड, होम स्टे, एडवेंचर टूरिज्म, रोप वे प्रोजेक्ट, 13 डिस्ट्रिक्ट 13 डेस्टिनेशन आदि के बारे मे बताया। पर्यटन सचिव ने श्री बदरीनाथ धाम के मास्टर प्लान पर प्रस्तुतीकरण भी दिया।