पहले भी हुए हैं यहाँ से कैदी फ़रार

रुड़की जेल की सुरक्षा एक बार फिर सवालों के घेरे में

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

रुड़की : उप कारागार से जेल में बन्द कैदी बुधवार सुबह उस समय फरार हो गया जब कैदी 15 अगस्त की तैयारियों को लेकर सफ़ाई कर रहे थे। पुलिस के अनुसार जेलकर्मियों ने उसे पकड़ने का प्रयास किया लेकिन वह फ़रार होने में सफल रहा। कैदी के भागने को लेकर रुड़की जेल की सुरक्षा एक बार फिर सवालों के घेरे में आ गई है। इस मामले पर जेलर जेपी द्विवेदी ने कहा कि फ़रार कैदी की तलाश की जा रही है।

उप कारागार रुड़की में 15 अगस्त की तैयारियों को लेकर 9 कैदियों को सफाई में लगाया गया था इसी दौरान एक कैदी जेल की दीवार कूदकर भाग गया। कैदी के भागने के बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। जेल के सिपाही कैदी के पीछे काफी दूर तक भागे लेकिन वह फरार होने में कामयाब रहा।

फरार कैदी का नाम शाहरुख पुत्र मुर्सलीन टांडा भनेड़ा बताया गया है। उसे सिविल लाइंस पुलिस ने दहेज उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार किया था। कैदी को पकड़ने के लिए पुलिस की तीन टीमें लगाई गई हैं। खुफिया विभाग को भी अलर्ट कर दिया गया है।

करीब दो महीने पहले भी एक कैदी सिविल अस्पताल से भी भाग गया था जो बाद में पकड़ा गया। कुछ दिनों पहले गंगनहर कोतवाली से एक मुजरिम फरार हुआ था जिसने लक्सर कोर्ट में सरेंडर किया था।