एनआरआई दो खाताधारकों ने नगर कोतवाली में दी तहरीर

 बैंक कर्मियों पर लगाए फर्जीवाड़े के आरोप

चेक के जरिए निकाली गई है रकम

एनआरआई दो खाताधारकों ने नगर कोतवाली में दी तहरीर

बैंक कर्मियों पर लगाए फर्जीवाड़े के आरोप

चेक के जरिए निकाली गई है रकम

देहरादून : दून नगर कोतवाली में 77 लाख की धोखाधड़ी का बड़ा मामला सामने आया है। न्यू कैंट रोड निवासी दो एनआरआई ने आईसीआईसीआई के बैंक अधिकारियों और बैंक कर्मियों पर फर्जीवाड़े का आरोप लगाया है। जिसमें बताया गया है कि उनके एकाउंट से सितंबर के महीने में अलग- अलग दिन चेक के जरिए 77 लाख रुपए निकाले गये हैं। जबकि जिस समय यह रकम निकाली गई उस समय खाताधारक यूएसए में थे।

कोतवाली में दी लिखित तहरीर

यूएसए में रहने वाले दो एनआरआई संजय प्रधान और तनुजा प्रधान ने नगर कोतवाली में लिखित तहरीर देकर बताया कि उनके एकाउंट से धोखाधड़ी से 77 लाख से अधिक रुपये निकाले गये हैं। उन्होंने बताया कि हैदराबाद में उन्होंने आईसीआईसीआई बैंक में एकाउंट खुलवाया था। जिसके बाद वे यूएसए चले गये थे जहां से वे अपने एकाउंट में रुपए जमा करवाते रहते थे। एक साल से उन्होंने अपने एकाउंट से कोई भी ट्रांजेक्शन नहीं की है।

जब वे फरवरी में यूएसए से भारत वापस आये तो उन्होंने 7 फरवरी को अपने एकाउंट की डिटेल निकाली तो पता चला कि उनके एकाउंट से सितम्बर माह में 77 लाख से अधिक रुपये निकाले गए हैं। यह रकम 7  से ख 9 सितंबर के बीच चेक के जरिए निकाली गई थी। रुपए निकाले जाने के बाद बाद उनके एकाउंट में अब 80 हजार रुपए ही बचे हैं। उन्होंने धोखाधड़ी को लेकर आईसीआईसीआई बैंक के अधिकारियों और कर्मचारियों की मंशा पर शक जताया है। उनके द्वारा अज्ञात बैंक कर्मियों के खिलाफ मामला भी दर्ज कराया गया है। मामले की जांच कर रहे एएसआई संजय मिश्रा ने बताया कि मामला दर्ज करने के बाद विवेचना शुरू कर दी गई है।

दून में बढ़ रहे धोखाधड़ी के मामले

राजधानी बनने के बाद दून में धोखाधड़ी के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। धोखाधड़ी को लेकर कई आरोपी पकड़े भी गये भी हैं। लेकिन दून में धोखाधड़ी के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। इनमें जमीन को लेकर फ्रॉड, रुपयों के लेन- देन, चेक बाउंस, ठगी, नौकरी के नाम पर ठगी के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इस साल की बात करें तो दून में जनवरी से लेकर अब तक धोखाधड़ी के म्8 मामले सामने आये हैं। जिनमें कुछ  लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है।

पिछले साल भी मामले आए सामने 
हाल ही में पंजाब एंड सिंध बैंक में फर्जी विक्रय पत्र से कई  लाख का लोन लेने का मामला सामने आया था। इस मामले में पुलिस ने दो  लोगों पर कार्रवाई करते हुए उन्हें जेल भी भेज दिया है। दून में लगातार फर्जीवाड़े के मामलों में बढ़ोतरी होती जा रही है। पिछले साल दून में कई बार  चार सौ बीसी के मामले सामने आये थे। जिनमें पुलिस ने  लोगों को आरोपी बनाया था।

Advertisements