टिहरी से सर्वाधिक निष्कासित हुए 14 पदाधिकारी 

नैनीताल से नौ, बागेश्वर से छह, पिथौरागढ से चार

पौडी, उत्तरकाशी और देहरादून से दो-दो तथा अल्मोडा से एक पदाधिकारी

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : प्रदेश में पांच, 11 और 16 अक्टूबर को तीन चरणों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए चल रही कवायद के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) की उत्तराखंड इकाई ने ‘पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप के चलते 40 सदस्यों को पार्टी ने बाहर कर दिया है। इस सूची में सर्वाधिक कार्यकर्त्ता टिहरी जिले से हैं। 

गौरतलब हो कि उत्तराखंड में पांच अक्टूबर से होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर बगावत करने वाले 40 पदाधिकारियों को भाजपा ने रविवार को पार्टी विरोधी गतिविधियों का दोषी मानते हुए तत्काल प्रभाव से पदमुक्त कर दिया।

मामले में भाजपा के प्रदेश महामंत्री राजेंद्र भंडारी ने बताया कि जल्द ही इनके निष्कासन की कार्यवाही की जाएगी। भंडारी ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने जिला स्तर पर गठित समितियों से प्राप्त रिपोर्ट के आधार पर पार्टी के समर्थित प्रत्याशी के विरूद्ध नामांकन भरने और पार्टी विरोधी गतिविधियों में प्रथम द्रष्टया संलिप्तता के कारण 40 पदाधिकारियों को तत्काल प्रभाव से पदमुक्त कर दिया गया है। शीघ्र ही उनके निष्कासन की कार्यवाही की जाएगी।

भाजपा से निकाले जाने वाले कार्यकर्ताओं में सर्वाधिक 14 पदाधिकारी टिहरी से हैं, जबकि नैनीताल से नौ, बागेश्वर से छह, पिथौरागढ से चार, पौडी, उत्तरकाशी और देहरादून से दो-दो तथा अल्मोडा से एक पदाधिकारी को पार्टी से बाहर कर दिया गया है। 

Advertisements