बरसात के दौरान कई स्थानों पर सड़कें हुई हैं क्षतिग्रस्त

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

गोपेश्वर । चमोली जिले में भारी वर्षा के चलते ग्रामीण इलाकों में मुसीबतें भी बढ़ गई हैं। बिरही के निजमूला घाटी में सड़क अवरुद्ध होने के चलते एक बीमार महिला को डंडों पर कुर्सी को बांधकर बनाई गयी पालकी पर ही मीलों पैदल चलकर अस्पताल पहुंचाया गया।

गौरतलब हो कि दो दिन पूर्व बिरही निजमूला मोटर मार्ग गाडी गांव के पास अवरुद्ध हो गया था। लोनिवि ने अभी तक सड़क की मरम्मत को लेकर कोई कदम नहीं उठाए गए हैं। निजमूला व पगना में भी सड़क बुरी तरह से अवरुद्ध है इस सडक पीएमजीएसवाई के पास है। सड़क बंद होने से मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाने में दिक्कतें हो रही है। बीते दिन ईराणी गांव की सप्तरी देवी पत्नी कुंवर सिंह की तबीयत अचानक खराब हो गई।

पहले तो ग्रामीण इस महिला को ईराणी से सात किमी पैदल कुर्सी से बनाई गयी पालकी पर लाए। पगना में सड़क खराब होने के बाद यहां से 12 किमी पैदल ही कुर्सी पर गाडी गांव तक लाया गया। यहां से वाहन के जरिए महिला को अस्पताल पहुंचाया गया।

महिला को अस्पताल लाने वाले ईराणी गांव के राकेश सिंह, दिनेश सिंह, हीरा सिंह, सोहन सिंह, देव सिंह, जयपाल सिंह का कहना है कि निजमूला ईराणी सड़क बरसात के दौरान कई स्थानों पर क्षतिग्रस्त पड़ी हुई है। विभाग व प्रशासन ने इसकी सुध नहीं ली जा रही है। जिससे ग्रामीणों को खासकर मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाने में दिक्कतें हो रही है।

Advertisements